• Thu. Jun 13th, 2024

भारत – नेपाल के विहार बॉर्डर से अब तक 47 विदेशियों को विभिन्न मामले में किया गया गिरफ्तार, एडीजी ने दी जानकारी

उमेश तिवारी

बिहार। भारत-नेपाल सीमा पर लगातार चौकसी जारी है। पुलिस विभाग के आंकड़ों के मुताबिक इस साल मई तक 35 विदेशी लोगों को विभिन्न आरोपों में गिरफ्तार किया गया था, जो अब बढ़ कर 47 तक पहुंच गई है। बिहार पुलिस मुख्यालय पर अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) जीतेंद्र सिंह गंगवार ने शुक्रवार को बताया कि जनवरी से मई 2023 तक 35 विदेशी नागरिकों को भारत-नेपाल सीमा से गलत तरीके से घुसपैठ करते की गिरफ्तार किया गया था, लेकिन अगस्त तक यह संख्या बढ़ाकर 47 तक पहुंच गई हैं।

कई देशों के नागरिक शामिल

जीतेंद्र सिंह गंगवार ने बताया कि सीमा से अवैध प्रवेश के मामले में 32 लोगों को गिरफ्तार किया गया जबकि सोना की तस्करी के आरोप में 6, एनडीपीएस और शराब तस्करी में 5, अवैध फॉरेन करेंसी मामले तथा अवैध हथियार तस्करी मामले में एक-एक और चोरी मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि इन 47 विदेशी नागरिकों में 12 देशों के लोग हैं। इनमें नेपाल, सूडान, म्यांमार, रुस, चेक गणराज्य, तिब्बत चीन, पूर्वी अफ्रीका युगांडा, उज्बेकिस्तान, नाइजीरिया, बांग्लादेश एवं संयुक्त राज्य अमेरिका के नागरिक शामिल हैं।

मधुबनी सीमा से हुई थी उज्बेकिस्तानी महिला की गिरफ्तारी

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले ही भारत नेपाल सीमा से उज्बेकिस्तान की एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि मधुबनी के हरलाखी थाना क्षेत्र में भारत नेपाल सीमा पर तैनात 48 वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल पिपरौन कैंप के एसएसबी जवानों ने भारत नेपाल सीमा पर बुधवार की शाम करीब 6 बजे एक विदेशी महिला को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार 28 वर्षीय महिला की पहचान उज्बेकिस्तान के मुखब्बत मुरोडोवा के रूप में हुई है। इस मामले को लेकर 48 वीं वाहिनी के कमांडेंट ने बताया कि दो अलग-अलग संदिग्ध पासपोर्ट मिलने एवं वीजा नहीं दिखाने को लेकर विदेशी महिला को अग्रिम कार्रवाई हेतु हरलाखी थाना की पुलिस को बुधवार की रात सुपुर्द कर दिया गया।

Leave a Reply