• Thu. Jun 13th, 2024

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते जिलाधिकारी नीतीश कुमार

अयोध्या। योगी सरकार आने के बाद प्रदेश का किसान खुशहाल क्योंकि उन्हें फसलों पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत लाभ मिल रहा है। केंद्र और प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना प्रचार वाहन को जिलाधिकारी नितीश कुमार ने कलेक्ट्रेट परिसर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिलाधिकारी ने बताया कि यह प्रचार वाहन जनपद के विभिन्न क्षेत्रों यथा विकासखंड में कृषक भाइयों को फसल बीमा योजना के संबंध में जागरूक करेगा।

धान में 1704 रू0 प्रति हे0 व गेहूॅ में 1167 रू0 प्रति हे0 कृषक अंश बीमा प्रीमियम

उन्होंने आगे बताया कि जनपद के समस्त विकास खंडों में वर्ष 2023 से 2026 के खरीफ एवं रबी मौसम में क्रमशः धान एवं गेहूं की फसल को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु अधिसूचित किया गया है। धान में 1704 रू0 प्रति हे0 व गेहूॅ में 1167 रू0 प्रति हे0 कृषक अंश बीमा प्रीमियम है। बीमा कराने कि अंतिम तिथि 31 दिसम्बर है। वर्ष 2023-24, 2024-25 एवं 2025-26 के खरीफ व रबी मौसम में पुनर्गठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना खरीफ सीजन में लागू है। खरीफ सीजन में केला पर फसल बीमा विकासखंड सोहावल, रुदौली, माया बाजार, पूरा बाजार, बीकापुर व तारून में लागू है केला पर 7500 रू0 प्रति हे0 कृषक अंश बीमा प्रीमियम है तथा 31 जुलाई अन्तिम तिथि है। रबी सीजन में टमाटर पर फसल बीमा विकासखंड सोहावल, रुदौली, मयाबाजार, पूरा बाजार, बीकापुर व तारून में लागू है। टमाटर पर 2500 रू0 प्रति हे0 कृषक अंश बीमा प्रीमियम है।

रबी सीजन की बीमा प्रीमियम अंतिम तिथि 30 नवंबर है

30 नवम्बर अन्तिम तिथि है। रबी सीजन में आम विकासखण्ड मसौधा, सोहावल, मयाबाजार में लागू है आम पर 3500 रू0 प्रति हे0 कृषक अंश बीमा प्रीमियम है। 15 दिसम्बर अन्तिम तिथि है। अधिसूचित क्षेत्र में अधिसूचित फसल को उगाने वाले सभी कृषक (बटाईदार व किराये पर खेती करने वाले कृषकों सहित) योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। ऋणी किसानों को संबंधित बैंक द्वारा स्वतः कवर किया जायेगा, यदि उन्हें बीमा नहीं लेना है तो अपने बैंक शाखा स्तर पर बीमा कराने की अंतिम तिथि के 07 दिन पहले तक प्रतिभागिता नहीं करने के संबंध में लिखित रूप से बैंक को देना होगा।

गैर ऋणी कृषक स्वैच्छिक आधार पर निकटतम बैंक शाखा बीमा कम्पनी के एजेंट कामन सर्विस सेन्टर ;बौद्ध जन सेवा केन्द्र सीधे फसल बीमा पोर्टल पर ऑनलाइन बीमा करा सकते हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे ऋणी कृषक जिन्होंने पहले योजना में प्रतिभागिता नहीं करने का प्रार्थना पत्र दिया था, परन्तु अब कृषक द्वारा योजना में प्रतिभागिता करनें हेतु प्रार्थना पत्र दिया है एवं बैंक शाखा द्वारा योजना में कवर नहीं किया जाता है तो क्षतिपूर्ति देय होने पर संबंधित कृषक को संबंधित बैंक शाखा द्वारा क्षतिपूर्ति का भुगतान किया जायेगा। यह आवश्यक है कि बैंक शाखा द्वारा ऋणी कृषक की प्रीमियम अंश की कटौती बीमा कराने की कट आफ डेट के अन्तिम 07 दिनों में करें।

नये के0सी0सी0 बनाने के समय,पुराने के0सी0सी0 को नवीनीकृत करने के समय,बैंक संबंधित किसान को फसल बीमा में प्रतिभागिता के संबंध में जानकारी देगी। उन्होंने कहा कि बीमा के संबंध में अधिक जानकारी हेतु अधिकृत इफको-टोकियो जनरल इंश्योरेंस कम्पनी लि0 के जिला प्रबंधक के मोबाइल नम्बर- 6388574090 पर सम्पर्क स्थापित करके भी किसान भाई फसल बीमा करा सकते है। इस अवसर पर उप निदेशक कृषि भी उपस्थित रहे। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत वर्ष 2022-2023- में खरीफ फसल में 21382 किसानों को इस योजना से मिला लाभ।

Leave a Reply