• Thu. Jun 13th, 2024

सरस्वती विद्या मंदिर रामबाग में संस्कृति बोध परियोजना व्यापीकरण जन जागरण अभियान का भव्य शुभारंभ

बस्ती। स्थानीय सरस्वती विद्या मन्दिर रामबाग में आज संस्कृति बोध परियोजना व्यापीकरण जन जागरण अभियान का शुभारंभ हुआ। उद्घाटन कार्यक्रम के अध्यक्ष विद्या मंदिर प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष अभय पाल एवं मुख्य अतिथि विद्यालय के अभिभावक व प्रख्यात कवि राजेश मिश्र रहे।

विद्यालय के प्रधानाचार्य गोविन्द सिंह ने मंचासीन मान्य अतिथियों का परिचय कराते हुए व मैकाले की शिक्षा नीति के प्रभाव का जिक्र करते हुए भारतीय संस्कृति के महत्व को प्रतिपादित किया। अतिथियों का स्वागत अंग वस्त्र व स्मृतिचिन्ह प्रदान कर किया गया। संस्कृति बोध परियोजना, गोरक्ष प्रान्त की सह संयोजिका एवं सरस्वती बालिका विद्या मंदिर रामबाग की प्रधानाचार्या प्रियंका सिंह ने कार्यक्रम की प्रास्ताविकी प्रस्तुत की।

सरस्वती शिशु मंदिर रामबाग के भैया हिमांशु शेखर मिश्र ने गीता पर आधारित काव्य पाठ प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया। सरस्वती विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रामबाग के भैया ने अपने गीत से दर्शकों को भावविभोर कर दिया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजेश मिश्र ने इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व में प्रत्येक देश अपनी संस्कृति, परम्पराओं, जीवन मूल्यों, ज्ञान-विज्ञान एवं महापुरुषों के अनुभवों को राष्ट्रीय धरोहर के रूप में भावी पीढ़ी को शिक्षा के माध्यम से सौंपने का प्रयास करता है। भारत की महान् आध्यात्मिक संस्कृति, श्रेष्ठ परम्पराएं, जीवन मूल्य, महापुरुषों के आदर्श जीवन-चरित्र तथा यहाँ का ज्ञान-विज्ञान इस देश की ही नहीं, विश्व की अमूल्य-निधि माने जाते हैं। परन्तु वर्तमान भारतीय शिक्षा पद्धति द्वारा अपनी इस अप्रतिम राष्ट्रीय निधि को भावी पीढ़ी को सौंपना तो दूर रहा, उससे परिचित कराने का कार्य भी नहीं हो पा रहा है। परिणामतः राष्ट्रीय स्वाभिमान-शून्यता एवं विदेशी संस्कृति के अन्धानुकरण की प्रवृत्ति छात्रों में बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। हमारी यह दृढ़ मान्यता है कि यदि हमारे छात्रों को आधुनिक ज्ञान-विज्ञान के साथ अपनी महान उज्ज्वल संस्कृति, गौरवपूर्ण इतिहास, महापुरुषों के जीवन-चरित्र, श्रेष्ठ राष्ट्रीय परम्पराओं का परिचय कराया जाए तो आज के निराशापूर्ण वातावरण में भी आशा की किरण उत्पन्न होकर विद्यार्थी जगत में अपेक्षित परिवर्तन दिखाई देगा। प्रसन्नता है कि विद्या भारती इस दिषा में यह अभूतपूर्व प्रयास कर रही है।

इस अवसर पर कार्यक्रम के अध्यक्ष विद्या मंदिर प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष अभय पाल ने अपने अध्यक्षीय भाषण मेंकहा कि समाज को भारत, भारतीयता ,अपने मान बिंदु ,संस्कृति , सांस्कृतिक  विरासत ,ऐतिहासिक स्थलों आदि का जन जागरण कराने के उद्देश्य से संस्कृति बोध परियोजना का महासंपर्क अभियान 01 अगस्त से 25 अगस्त तक चलेगा इसमें विद्यालय के सभी भैया, बहन, पूर्व छात्र परिषद, मातृभारती, विद्वत परिषद, संगठन के लोग, समिति के लोग, प्रत्येक परिवार से प्रत्येक सदस्य को एवं अन्य विद्यालयों को जोड़ने का काम किया जाएगा।

कार्यक्रम में सरस्वती बालिका विद्या मंदिर रामबाग की बहनों ने शिव भजन पर नृत्य प्रस्तुत किया। आभार ज्ञापन सरस्वती शिशु मंदिर रामबाग के प्रधानाचार्य भानु प्रताप त्रिपाठी द्वारा किया गया। कल्याण मंत्र के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। कार्यक्रम में तीनों विद्यालयों के आचार्य, आचार्या बहनें, छात्र/छात्राएं, पूर्व छात्र परिषद के छात्र, मातृ शक्ति, विद्वत् परिषद के सदस्य, संगठन एवं समिति के लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply