• Thu. Jun 13th, 2024

श्रीराम की पावन धरा पर छात्रों ने जानी घर-घर पानी पहुंचाने की कहानी

अयोध्‍या। श्रीराम की नगरी अयोध्‍या में जल जीवन मिशन की हर घर जल योजना से लाभान्वित हुए ग्रामीण परिवारों से मिलकर स्‍कूली छात्र-छात्राओं के चेहरे खिल उठे। बरसों से स्‍वच्‍छ पीने के पानी का इंतजार कर रहे ग्रामीणों ने बच्‍चों से अपने सुखद अनुभव साझा किए। जिसको सुनकर बच्‍चों को पीएम की महत्वाकांक्षी हर घर जल योजना की जानकारी मिली।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की ओर से अयोध्‍या में आयोजित ‘जल ज्ञान यात्रा’ में छात्र-छात्राओं ने उत्‍सुकता के साथ भाग लिया। हाथों में जल बचाने के स्लोगन लिए बच्चे शाहबाजपुर फिलसेंडा स्‍कीम पहुंचे। जल निगम (ग्रामीण) की प्रयोगशाला में गए और गुप्‍तार घाट व निर्माणधीन एसटीपी अयोध्‍या का भ्रमण भी किया।

अयोध्‍या स्थित शाहबाजपुर स्कीम से शुक्रवार को विधायक रामचंद्र यादव, एसडीएम रुदौली अंशुमान सिंह, अधिशासी अभियंता जल निगम अरविंद यादव ने जल ज्ञान यात्रा को हरी झंडी दिखाकर यात्रा का शुभारंभ किया। जल ज्ञान यात्रा अयोध्‍या के रुदौली, सोहावल, मसौधा विकास खंड के गांव में गई। यहां बच्चों ने ग्रामीणों को जल बचाने संदेश दिया और हर घर तक पहुंचे नल कनेक्शनों को देखा और ग्रामीणों से बातचीत भी की। अयोध्‍या के 10 प्राथमिक स्‍कूल के लगभग 100 छात्र-छात्राओं व 20 अध्‍यापकों का दल जल जीवन मिशन की परियोजनाओं के शैक्षिक भ्रमण पर निकला। जल निगम के अधिकारियों व कर्मचरियों ने छात्रों को पाइप वॉटर सप्लाई स्कीम के बारे में जानकारी दी।

वॉटर टेस्टिंग लैब में नन्‍हें हाथों ने किया जल गुणवत्ता परीक्षण

शाहबाजपुर फिलसेंडा स्कीम और गांव का भ्रमण करने के बाद स्कूली बच्चे जल निगम ग्रामीण की प्रयोगशाला पहुंचे। यहां बच्चों ने पानी को शुद्ध करने वाली मशीनों को देखा और इन मशीनों का पानी को शुद्ध करने में कैसे उपयोग होता है इसको भी जाना। बच्‍चों ने एफटीके किट से जल गुणवत्ता परीक्षण भी किया।

गांव-गांव जाकर स्कूली बच्चों ने जानी स्‍वच्‍छ पेयजल की कहानी

जल ज्ञान यात्रा के दौरान बच्‍चों ने अशुद्ध जल को स्‍वच्‍छ करने की पूरी प्रक्रिया को भी समझा। एफटीके प्रशिक्षित महिलाओं और तकनीकी रूप से प्रशिक्षित युवाओं से भी बातचीत कर उनसे कई रोचक जानकारियां ली।

Leave a Reply