• Thu. Jun 13th, 2024

प्रमुख सचिव ने योगी सरकार की अयोध्या के विकास कार्यों और विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर की चर्चा

अयोध्या। में भगवान राम के मंदिर का निर्माण कार्य तेजी गति से चल रहा हैं तो वहीं दूसरी ओर तरफ योगी सरकार का पूरा फोकस अयोध्या के विकास पर हैं। अयोध्या में आने वाले श्रद्धालुओं की दिन-प्रतिदिन भीड़ बढ़ती जा रही जिसको देखते हुए योगी सरकार आने वाले श्रद्धालुओं के लिए आवागमन की उत्तम व्यवस्था उपलब्ध हो इसके लिए प्रयासरत हैं। योगी सरकार के निर्देश पर प्रमुख सचिव परिवहन एवं महानिदेशक उपाम एल0 वेंकटेश्वर लू रविवार को अयोध्या पहुंचे। सुबह 10 बजे आयुक्त सभागार में मंडल के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक किया। इस दौरान अयोध्या के विकास कार्यों और विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर चर्चा किया।

उपाम एल वेंकटेश्वर लू ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अयोध्या बहुत बड़ा तीर्थ स्थल बनने जा रहा है। यहां बड़ी संख्या में तीर्थ यात्री देश विदेश से आएंगे। जिसे अयोध्या में आने वाले वाहनों की संख्या भी बढ़ेगी। जिसे देखते हुए शासन द्वारा कांप्रिहेंसिव ट्रैफिक प्लान तैयार किया गया है। जिसके तहत विभिन्न रास्ते जैसे सुल्तानपुर, गोरखपुर, लखनऊ रुट से आने वाले वाहनों को राम नगरी से बाहर ही रोकने की योजना है। इसके लिए मल्टीलेवल पार्किंग बनाया जा रहा है। ताकि अयोध्या को जाम से मुक्त रखा जा सके।

ई- बसें अयोध्या में बढ़ेगी

महानिदेशक ने कहा कि पार्किंग के बाद श्रद्धालुओं के आवागमन के लिए छोटे इलेक्ट्रिक वाहनों को चलाया जाएगा। यात्रियों के आवागमन के लिए बेहतर सुविधाएं मिले, इसके लिए राम नगरी के अंदर इलेक्ट्रिक वाहन चलाएं जाएँगे, ई- बस व अन्य वाहन भी चलाए जाएंगे, इसके लिए संबंधित अधिकारियों से बात हो चुकी है। परमिट, टैक्स और सब्सिडी पर कार्य चल रहा है।

योगी सरकार के निर्देश पर प्रदेश के सभी मंडलों में चल रहा समीक्षा बैठक

एल वेंकटेश्वर लू की अध्यक्षता में जनसमस्याओं जनशिकायतों के प्रभावी निस्तारण, विभाग की जनकल्याणकारी योजनाओं, विभागीय लक्ष्यों एवं निर्माणाधीन परियोजनाओं और सड़क सुरक्षा के सम्बंध में मण्डलीय समीक्षा बैठक आयुक्त कार्यालय सभागार में आयोजित की गई । प्रमुख सचिव ने सर्वप्रथम जन शिकायतों के निस्तारण की जानकारी प्राप्त की तथा निर्देश दिए कि शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण किया जाए।

कॉलेजों में जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश

उन्होंने विद्युत विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि जनपद में लाइन लास की घटनाओं में कमी लायी जाय और विद्युत संसाधनों के सदुपयोग के लिए सभी कॉलेजों तथा अन्य माध्यमों से लोगों को जागरूक किया जाय। उन्होंने कहा कि अवैध बिजली कनेक्शन बंद कराने तथा बकाया बिजली बिलों को जमा कराने हेतु सभी अधिकारी व कर्मचारी जमीनी स्तर पर कार्य करें।

बाढ़ आने के पूर्व ही सभी तैयारियां हो पूर्ण,नोडल अधिकारी निरन्तर गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण करते रहे

सिंचाई विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुये उन्होंने कहा कि वर्तमान में बाढ़ की स्थिति को देखते हुये बाढ़ आने के पूर्व ही सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाय। जहां पर चेक डैम बनाने की आवश्यकता हो वहां चेकडैम बना लिया जाय। यह सुनिश्चित किया जाय कि चेक डैम बनाने में बेहतर तकनीकी एवं उच्च गुणवत्ता की सामग्री का उपयोग किया जाय।उन्होंने निराश्रित गो-आश्रय स्थल में चारे की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये तथा कहा कि नोडल अधिकारी निरन्तर गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण करते रहे।

सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए निरन्तर प्रयास

इसके पश्चात उन्होंने सड़क सुरक्षा के विषय में मण्डल में कराये गये कार्यो आदि की जानकारी प्राप्त की तथा कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए निरन्तर प्रयास किये जाय तथा मण्डल के सभी डिग्री कालेजों में छात्रों को सड़क सुरक्षा के विषय में गोष्ठि आदि के माध्यम से जागरूक किया जाय तथा विद्यालयों के एनसीसी ट्रेनरों को बुलाकर उनको भी सड़क सुरक्षा के विषय में जागरूक किया जाय तथा इसकी महत्ता के बारे में बताया जाय, जिससे वे बच्चों को भी जागरूक कर सकें और ट्रैफिक पुलिस को भी सड़क सुरक्षा के विषय में जागरूक किया जाय।

सड़क सुरक्षा के विषय में कराये जा कार्यो की नियमित माॅनीटरिंग जरुरी

प्रमुख सचिव ने कहा कि सभी जिलों में सड़क सुरक्षा के विषय में कराये जा रहे कार्यो की नियमित माॅनीटरिंग की जाय। उन्होंने कहा कि गुड समेरिटन लाॅ के अन्तर्गत घायलों की सहायता करने वाले व्यक्तियों के लिए परिवहन विभाग द्वारा प्रोत्साहन धनराशि प्रदान किये जाने की व्यवस्था है, जिसके अन्तर्गत अधिक से अधिक लोगो को प्रोत्साहित किया जाय।उन्होंने निर्देश दिए कि सड़कों के सोल्डर का निर्माण ठीक ढंग से किया जाय जिससे की दुर्घटनाओं में कमी लायी जा सकें।

Leave a Reply