• Thu. Jun 13th, 2024

मुख्य मंत्री पंजाब के योग्य नेतृत्व में पिछले 25 दिनों में 7660 युवाओं को नौकरियों दे कर नया रिकार्ड बनाया

ByJyoti Nishad

Sep 23, 2023

चंडीगढ़। पंजाब की ख़ुशहाली और बेहतरी के लिए लामिसाल और ऐतिहासिक पहलकदमी के अंतर्गत पंजाब के मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान ने आज अपने कार्यकाल केवल 18 महीनों में राज्य के युवाओं को 36524 सरकारी नौकरियों के नियुक्ति पत्र सौंप कर एक नया रिकार्ड बनाया है।

राज्य के बिजली, शिक्षा, वन और अन्य विभागों में 427 नौजवानों को नियुक्ति पत्र देने संबंधी समागम दौरान संबोधित करते मुख्य मंत्री ने कहा कि यह एक बडी प्राप्ति है क्योंकि पिछली सरकारों ने अपने कार्यकाल के इतने थोड़े समय में ऐसा कोई मील पत्थर स्थापित नहीं किया। उन्होंने बताया कि 30 अगस्त से ले कर अब तक के 25 दिनों में राज्य सरकार द्वारा 7660 नौजवानों को नियुक्ति पत्र दिए गए है। भगवंत सिंह मान ने बताया कि इनमें 5714 आंगनवाड़ी वर्कर, 710 पटवारी, 560 पुलिस और अन्य अलग- अलग विभागों के 249 और 427 युवा शामिल है।

मुख्य मंत्री ने कहा कि समुच्चय भर्ती प्रक्रिया पारदर्शी और सभ्यक ढंग के साथ की गई है, जिस कारण सरकारी नौकरियाँ हासिल करने वाले इन 36000 से अधिक युवाओं में से एक भी नियुक्ति को अब तक अदालत में चुनौती नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार के लिए यह गर्व वाली बात है कि इन युवाओं को पूरी तरह योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरियाँ दी गई है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इस प्रयासों का एक उद्देश्य यह यकीनी बनाना है कि राज्य के युवाओं को राज्य के सामाजिक आर्थिक विकास में सक्रिय हिस्सेदार बना सकें।

मुख्य मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने अपने कार्यकाल के पहले 18 महीनों में नौकरियां दे कर हर महीने 2000 युवाओं को सरकारी नौकरियां देने का रिकार्ड कायम किया है। उन्होंने कहा कि यह एक रिकार्ड है क्योंकि पिछली किसी भी सरकार ने अपने कार्यकाल के शुरुआती महीनों में युवाओं को इतनी नौकरियाँ नहीं दी। भगवंत सिंह मान ने दोहराया कि योग्यता और पारदर्शिता वाली प्रणाली अपनाते राज्य भर के युवाओं को यह नौकरियाँ दी गई है।

मुख्य मंत्री ने नए भर्ती हुए युवाओं को पूरे जोश और जज़बे के साथ लोगों की सेवा करने का न्योता दिया क्योंकि अब वह (युवा) सरकार का अटूट अंग बन चुके है। भगवंत सिंह मान ने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि भर्ती हुए युवा अपनी कलम का प्रयोग समाज के जरूरतमंद और पिछड़े वर्गों की मदद के लिए करेंगे। उन्होंने कहा कि नए भर्ती हुए युवाओं को अधिक से अधिक लोगों की भलाई यकीनी बनानी चाहिए जिससे समाज के हर वर्ग को इस का लाभ मिल सके।

मुख्य मंत्री ने दोहराया कि युवाओं को गर्व महसूस करना चाहिए क्योंकि वह अब राज्य सरकार की उस टीम का हिस्सा है, जो नए पंजाब की सृजना करने के लिए अथक मेहनत कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस भर्ती अभियान को पारदर्शी ढंग से पूरा किया जा रहा है और नौकरियाँ सिर्फ़ जरूरतमंद और योग्य उम्मीदवारों को ही दी जा रही है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इस भर्ती अभियान में केवल योग्यता और काबलीयत ही देखी गई और किसी भी प्रकार की कोई सिफ़ारिश नहीं सुनी गई।

मुख्य मंत्री ने कहा कि यह स्थान ऐसे कई समागमों का गवाह बन गया है, जहाँ युवाओं को अलग- अलग सरकारी विभागों में नौकरियाँ दी गई है। उन्होंने कहा कि यह युवाओं की भलाई को यकीनी बनाने और उनके लिए रोज़गार के नए रास्ते खोलने के लिए राज्य सरकार की सहृदय वचनबद्धता को दिखाता है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि उनके लिए यह बहुत ही सम्मान वाली बात है कि इन पदों के लिए सभी युवाओं का चयन केवल योग्यता के आधार पर किया गया है।

मुख्य मंत्री ने कहा कि जिस तरह हवाई अड्डों पर हवाई पट्टी, जहाज़ को सुचारू और सुरक्षित उड़ान भरने की सुविधा देती है, उसी तरह राज्य सरकार युवाओं को उनके सपनों को साकार करने में मदद कर रही है। उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि युवाओं के नए विचारों को दिशा देने के लिए हर संभव यत्न किए जा रहे है और इस नेक कार्य के लिए कोई कमी बाकी नहीं छोड़ी जाएगी। भगवंत सिंह मान ने युवाओं से अपील की कि वह समाज में अपनी अलग पहचान बनाने के लिए हर संभव यत्न करे, जिससे कामयाबी और ख़ुशहाली को पहचाना जा सकें।

स. भगवंत सिंह मान ने कहा कि पिछले कार्यकाल दौरान इन रनवेज़ का प्रयोग सिर्फ़ अमीर लोग अपने परिवारों को स्थापित करन के लिए करते थे। उन्होंने कहा कि अब हमारी सरकार ने यह रनवे आम जैसे परिवारों के नौजवानों के लिए खोल दिए हैं। भगवंत सिंह मान ने नौजवानों से अपील की कि वह ज़िंदगी में तरक्की करने के लिए इन रनवे का अधिक से अधिक लाभ ले और ख़ुशहाली के नए युग की शुरुआत करे।

मुख्य मंत्री ने अफ़सोस व्यक्त किया कि पिछली सरकारों दौरान लोक कामयाबी की बुलन्दियों पर पहुँचने से डरते थे क्योंकि तब के शासक लोगों के कारोबारें में अपना हिस्सा डालने के लिए दबाव डालते थे। उन्होंने कहा कि इन्ह नेतायों ने जनता को विशेषकर कामयाब उद्योगपतियों को बहुत लूटा है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पिछली राज्य सरकारों द्वारा उद्योगपतियों पर कई तरह की पाबंदियाँ लगाई गई थी।

मुख्य मंत्री ने नए भरती किए मुलाजिमों को पंजाब और यहाँ के लोगों की भलाई के लिए पूरी इमानदारी और तनदेही के साथ काम करने का न्योता दिया क्योंकि उनको भी योग्यता के आधार पर ही नौकरियाँ हासिल हुई है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार के सहृदय यत्नों से राज्य में से कौशल के हिजरत को रोकने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पंजाब सरकार राज्य को फिर रंगीन पंजाब बनाने के सपने को पूरा करन और राज्य की शान की फिर बहाली के लिए पूरी तनदेही के साथ काम कर रही है।

पंजाब सरकार की भ्रष्टाचार विरुद्ध सिफ़र सहनशीलता नीति का ज़िक्र करते मुख्य मंत्री ने कहा कि वह राज्य में उचित और पारदर्शी शासन को यकीनी बनाने के लिए काम कर रहे सभी अधिकारियों पर तीखी नज़र रख रहे है।

इस मौके कैबिनेट मंत्री हरभजन सिंह ई.टी.ओ., लाल चंद कटारूचक्क और हरजोत सिंह बैंस सहित कई अन्य आदरणिय भी उपस्थित थे।

Leave a Reply