• Thu. Jun 13th, 2024

अन्तर्राष्ट्रीय युवा दिवस पर युवा संवाद का हुआ आयोजन दिलाया गया पंच प्रण

बस्ती। 12 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंच प्रण मंत्र पर आधारित आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत कर्मा देवी शैक्षिक संस्थान शैक्षणिक संस्थान में युवा संवाद कार्यक्रम का आयोजन नेशनल एसोसिएशन ऑफ़ यूथ एवं एवं नेहरू युवा केंद्र संगठन के तत्वाधान में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने सरस्वती जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्चन एवं दीप प्रजनन कर किया।

कार्यक्रम के दौरान युवा संवाद में *भारत @2047* भारत पंच प्रण के विषय पर युवाओं से चर्चा किया गया। जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन कहा कि प्रकृति के पंच तत्वों की तरह पंच प्रण भी देश के सुदृढ़ीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इन्हीं पंच प्रण संकल्प के साथ देश की युवा पीढ़ी द्वारा एक बार फिर से भारत को विश्व गुरु बनाया जा सकता है। इसलिए प्रधानमंत्री के पंच प्रण हर युवा और हर भारतीयों के लिए महत्वपूर्ण सिद्ध होगा।

इस दौरान जिलाधिकारी ने पंच प्रण पर युवाओं को शपथ दिलाया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में शिक्षित युवा सेवा समिति के संचालक गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने कहा कि विकलांगों के लिए समाज में अच्छा कार्य किया जा रहा है इसे और भी बेहतर बनाने की आवश्यकता है।

मुख्य वक्ता के रूप में ही नेशनल एसोसिएशन ऑफ़ युथ के अध्यक्ष भावेश पांडेय ने युवाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा दिया गया पंच प्रण का मंत्र आज के युवाओं के लिए महामंत्र है। यदि इन पांच प्राणों को हम अपने जीवन में आत्मसात करें, और देश के लिए समर्पण भाव से कार्य करें।

अपनी सामाजिक भागीदारी को सुनिश्चित करने का प्रयास करें तो अवश्य ही आने वाले 25 सालों में जब हमारा देश आजादी के 100 वीं वर्षगांठ मना रहा होगा, तब हम विश्व के पटल पर अवश्य ही प्रथम स्थान पर होंगे। उन्होंने कहा कि नेशनल एसोसिएशन आफ यूथ युवाओं को उनकी सामाजिक भागीदारी के प्रति जागरूक करने हेतु अनवरत कार्य कर रहा है मेरा आह्वान है कि आज के युवा नेशनल एसोसिएशन ऑफ उसे से जुड़े और रचनात्मक और सकारात्मक तरीके से युवाओं का समूह बने।

उन्होंने यह भी कहा कि मेरे मन में कोई शंका नहीं है कि जब 2047 में भारत आजादी के 100 साल पूरे करेगा हमारा स्थान विश्व में शीर्ष पर होगा। युवा अधिकारी अनुराग यादव ने युवाओं को संबोधित करते हुए बताया कि इस अमृत काल में विकसित भारत, गुलामी की हर सोच से मुक्ति, विरासत पर गर्व, एकता और एकजुटता व नागरिकों द्वारा अपने कर्तव्य पालन के पंच प्राण का आह्वान किया गया है। क्योंकि सन् 2047 में भारतवासी आजादी के 100वीं वर्षगांठ मनाएंगे। कार्यक्रम का संचालन सुरेंद्र चौधरी ने किया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से कर्मा देवी शैक्षिक समूह के संस्थापक पूर्व आईएएस ओम नारायण सिंह, प्रशांत मिश्रा, नेशनल एसोसिएशन आफ यूथ से अमन पांडेय, मयंक पाण्डेय नेहरू युवा केंद्र से ओम प्रकाश मिश्र, अरूण कुमार, राम शुभाग, बृजेश पाण्डेय, प्रतिभा कर्मा देवी संस्थान से मुथू कुमार, प्रिया, शिवांशु, कुसुम यादव, श्रुति सिंह सहित तमाम लोग छात्र-छात्राऐ मौजूद रहे।

Leave a Reply